Political

जानिए असम और बंगाल चुनाव को लेकर अमित शाह की रणनीति

 

डेस्क: 2021 विधानसभा चुनाव के लिए अब मात्र गिने-चुने दिन बचे रह गए हैं. ऐसे में सभी राजनैतिक पार्टियों के उम्मीदवार अपने-अपने क्षेत्र में चुनावी प्रचार में लगे हुए हैं. इसी बीच भारतीय जनता पार्टी बंगाल में 200 से भी अधिक सीटों से जीतने का दावा कर रही है.

यह दावा ऐसे ही नहीं किया जा रहा है. इसके पीछे अमित शाह की सोची समझी रणनीति है. 2019 के लोकसभा चुनाव के बाद से बंगाल में भाजपा की पकड़ धीरे-धीरे मजबूत होने लगी. इसी मजबूती को और बढ़ाने के लिए भाजपा के कार्यकर्ता व कद्दावर नेता दिन-रात एक करके चुनाव प्रचार में लगे हुए हैं.

इसी बीच अमित शाह ने यह ऐलान कर दिया है कि इस बार वह बंगाल में 200 से भी अधिक सीटें जीतेंगे. दरअसल 2019 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी ने बंगाल में 18 सीटें जीती थी. उन्होंने कहा कि यदि लोकसभा और विधानसभा चुनाव में पार्टी के प्रदर्शन की तुलना की जाए तो आपको यह अंदाजा लग जाएगा कि भाजपा क्यों 200 से अधिक सीटों पर जीतने की बात कर रही है.

18 सीटें जीतने के बाद बंगाल भाजपा कार्यकर्ताओं का आत्मविश्वास बढ़ा है और वह कई गुना अधिक आत्मविश्वास के साथ पार्टी के प्रचार के काम में लगे हुए हैं. सूत्रों की मानें तो भाजपा ने पश्चिम बंगाल में सबसे बड़ी चुनावी व्यवस्था को तैनात किया है. इस टीम में सदस्यों की संख्या सैकड़ों में हैं.

बंगाल में पार्टी के अंदर टिकट बंटवारे को लेकर जारी विवाद पर उनका कहना है कि यह पार्टी का आंतरिक मामला है. क्योंकि हम एक अनुशासित पार्टी है तो हम इन मुद्दों को आपस में सुलझा लेंगे. उनका दावा है कि यह बातें चुनाव को प्रभावित नहीं करेगी.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button