PoliticalSouth 24 Parganas

‘दीदी संग हिंदी भाषी’ कार्यक्रम में हिंदी सेल के जिलाध्यक्ष बनाये गये सत्येंद्र सिंह

डेस्क: तृणमूल कांग्रेस नेता व दक्षिण कोलकाता में लोकप्रिय समाजसेवी सत्येंद्र सिंह को बुधवार को हिंदी प्रकोष्ठ का दक्षिण 24 परगना जिला का अध्यक्ष बनाया गया. जिलाध्यक्ष बनाये जाने पर श्री सिंह ने हिंदी प्रकोष्ठ के अध्यक्ष व पूर्व राज्यसभा अध्यक्ष विवेक गुप्ता का आभार व्यक्त किया. साथ ही उन्होंने जिले के हिंदीभाषियों के विकास के लिए हम संभव प्रयास करने का वादा किया.

कार्यक्रम के बाद उन्होंने न्यूजऑफबंगाल संवाददाता मनोज कुमार राय से बातचीत करते हुए कहा कि भारतीय जनता पार्टी सबसे बड़ी झूठी बार्टी है. यह सिर्फ लोगों को सुनहरे सपने दिखा कर सत्ता में आने की कोशिश करती है. केंद्र की भाजपा सरकार ने लोगों को ठगा है. आज जनता महंगाई और बेरोजगारी से त्रस्त है. बंगाल में ममता बनर्जी की सरकार में हिंदी भाषियों को काफी सम्मान दिया जाता है. उनके विकास के लिए ममता बनर्जी ने काफी कदम उठाये हैं. भाजपा सिर्फ नफरत की राजनीति करती है. लोगों को बांटने का प्रयास करती है.

कार्यक्रम में तृणमूल कांग्रेस हिंदी प्रकोष्ठ के अध्यक्ष व राज्यसभा के पूर्व सांसद विवेक गुप्त ने पश्चिम बंगाल हिंदी प्रकोष्ठ द्वारा ‘हिंदी भाषी संग दीदी’ कार्यक्रम के भव्य आयोजन के दौरान यह टिप्पणी व्यक्त की. यह कार्यक्रम मटियाब्रुज विधानसभा क्षेत्र के नेचरपार्क, हुनमान मंदिर के पास आयोजित किया गया था. इस मौके पर उन्होंने कहा कि बंगाल में हिंदी भाषियों के साथ तृणमूल सरकार कोई भेदभाव नहीं करती है. उन्होंने बताया कि ममता बनर्जी के शासन काल में 6 सौ हिंदी माध्यम स्कूल, 7 कॉलेज व 1 हिंदी विश्वविद्यालय बनाया गया है. यह पूर्वी भारत के लिए गर्व की बात है.

उन्होंने कहा कि तृणमूल सरकार विभिन्न जनकल्याणकारी परियोजनाएं जैसे स्वास्थ्य साथी, सबुज साथी, निजगृह निज प्रकल्प, दुआरे सरकार, दीदी के बोल के द्वारा आपके साथ हमेशा जुड़ी रहती है. उन्होंने कहा कि ममता बनर्जी ने बजट में प्रत्येक साल 1 सौ हिंदी स्कूल खोलने की घोषणा की है.

इस मौके पर उन्होंने कहा कि चुनाव के समय बाहरी टूरिस्ट की तरह आकर वापस चले जाएंगे. उन्होंने आने वाले दिनों में इलाके में लड़कियों के लिए स्कूल खोलने का आश्वसन दिया.

इस मौके पर प्रदेश हिंदी प्रकोष्ठ के महासचिव राजेश सिन्हा, हरिमोहन सिंह, विनोद महतो, राम प्यारे राम, रंजीत सिल, दक्षिण कोलकाता हिंदी प्रकोष्ठ के अध्यक्ष मंजीत सिंह जित्ता, शम्स इकबाल, अनवर खान, सुमन राय चौधरी, ईश्वर चंद्र उपाध्याय, लव सिंह, सूरज सिंह, महेश सिंह, प्रकाश गोस्वामी, विनोद तिवारी, संतोष शर्मा, भिखारी सिंह, रवि ओझा, शमीम खान, मदन मोहन साव, अब्दुल सत्तार, शशि सिंह, राकेश जैसवारा व अन्य गण्यमान्य लोग मौजूद थे.’दीदी संग हिंदी भाषी’ कार्यक्रम में हिंदी सेल के जिलाध्यक्ष बनाये गये सत्येंद्र सिंह
कोलकाता. तृणमूल कांग्रेस नेता व दक्षिण कोलकाता में लोकप्रिय समाजसेवी सत्येंद्र सिंह को मंगलवार को हिंदी प्रकोष्ठ का दक्षिण 24 परगना जिला का अध्यक्ष बनाया गया. जिलाध्यक्ष बनाये जाने पर श्री सिंह ने हिंदी प्रकोष्ठ के अध्यक्ष व पूर्व राज्यसभा अध्यक्ष विवेक गुप्ता का आभार व्यक्त किया. साथ ही उन्होंने जिले के हिंदीभाषियों के विकास के लिए हम संभव प्रयास करने का वादा किया. कार्यक्रम के बाद उन्होंने न्यूजऑफबंगाल संवाददाता मनोज कुमार राय से बातचीत करते हुए कहा कि भारतीय जनता पार्टी सबसे बड़ी झूठी बार्टी है. यह सिर्फ लोगों को सुनहरे सपने दिखा कर सत्ता में आने की कोशिश करती है. केंद्र की भाजपा सरकार ने लोगों को ठगा है. आज जनता महंगाई और बेरोजगारी से त्रस्त है. बंगाल में ममता बनर्जी की सरकार में हिंदी भाषियों को काफी सम्मान दिया जाता है. उनके विकास के लिए ममता बनर्जी ने काफी कदम उठाये हैं. भाजपा सि्र्फ नफरत की राजनीति करती है. लोगों को बांटने का प्रयास करती है.
कार्यक्रम में तृणमूल कांग्रेस हिंदी प्रकोष्ठ के अध्यक्ष व राज्यसभा के पूर्व सांसद विवेक गुप्त ने पश्चिम बंगाल हिंदी प्रकोष्ठ द्वारा ‘हिंदी भाषी संग दीदी’ कार्यक्रम के भव्य आयोजन के दौरान यह टिप्पणी व्यक्त की. यह कार्यक्रम मटियाब्रुज विधानसभा क्षेत्र के नेचरपार्क, हुनमान मंदिर के पास आयोजित किया गया था. इस मौके पर उन्होंने कहा कि बंगाल में हिंदी भाषियों के साथ तृणमूल सरकार कोई भेदभाव नहीं करती है. उन्होंने बताया कि ममता बनर्जी के शासन काल में 6 सौ हिंदी माध्यम स्कूल, 7 कॉलेज व 1 हिंदी विश्वविद्यालय बनाया गया है. यह पूर्वी भारत के लिए गर्व की बात है. उन्होंने कहा कि तृणमूल सरकार विभिन्न जनकल्याणकारी परियोजनाएं जैसे स्वास्थ्य साथी, सबुज साथी, निजगृह निज प्रकल्प, दुआरे सरकार, दीदी के बोल के द्वारा आपके साथ हमेशा जुड़ी रहती है. उन्होंने कहा कि ममता बनर्जी ने बजट में प्रत्येक साल 1 सौ हिंदी स्कूल खोलने की घोषणा की है. इस मौके पर उन्होंने
उन्होंने कहा कि चुनाव के समय बाहरी टूरिस्ट की तरह आकर वापस चले जाएंगे. उन्होंने आने वाले दिनों में इलाके में लड़कियों के लिए स्कूल खोलने का आश्वसन दिया. इस मौके पर प्रदेश हिंदी प्रकोष्ठ के महासचिव राजेश सिन्हा, हरिमोहन सिंह, विनोद महतो, राम प्यारे राम, रंजीत सिल, दक्षिण कोलकाता हिंदी प्रकोष्ठ के अध्यक्ष मंजीत सिंह जित्ता, शम्स इकबाल, अनवर खान, सुमन राय चौधरी, ईश्वर चंद्र उपाध्याय, लव सिंह, सूरज सिंह, महेश सिंह, प्रकाश गोस्वामी, विनोद तिवारी, संतोष शर्मा, भिखारी सिंह, रवि ओझा, शमीम खान, मदन मोहन साव, अब्दुल सत्तार, शशि सिंह, राकेश जैसवारा व अन्य गण्यमान्य लोग मौजूद थे.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button