Political

पेट्रोल डीजल की मूल्यवृद्धि के खिलाफ ई बाइक पर ममता बनर्जी का चुनावी स्टंट

डेस्क: पेट्रोल, डीजल, रसोई गैस की बढ़ी कीमतों के खिलाफ देशभर में विपक्षी दल तरह-तरह से प्रदर्शन कर रहे हैं. पश्चिम बंगाल की सत्ताधारी पार्टी तृणमूल कांग्रेस भी इस मुद्दे पर केंद्र की नरेंद्र मोदी की सरकार को घेरने में पूरी ताकत लगा दी है. तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो और राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने पेट्रोल-डीजल की कीमतों में वृद्धि के खिलाफ एक अनोखा प्रदर्शन किया. वह कालीघाट स्थित अपने घर से ई-बाइक पर सवार होकर राज्य सचिवालय नवान्न भवन पहुंचीं.

दरअसल पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव होने हैं. यहां तृणमूल कांग्रेस और भारतीय जनता पार्टी एक-दूसरे के आमने-सामने हैं. राज्य की तृणमूल कांग्रेस सरकार की खामियों को जहां भारतीय जनता पार्टी चुनावी जनसभाओं में गिना रही हैं, वहीं तृणमूल कांग्रेस केंद्र की भाजपा सरकार को घेरने में कोई कसर नहीं छोड़ रही.

Mamta Banerjee on E-bike

कोलकाता के पूर्व मेयर व बंगाल सरकार में मंत्री फिरहाद हकीम ई-बाइक चला रहे थे और पीछे मुख्यमंत्री ममता बनर्जी बैठी थीं. फिरहाद ने गले में महंगाई का पोस्टर लटकाया था. हरीश चटर्जी स्ट्रीट से लेकर राज्य सचिवालय नवान्न तक यह ई-बाइक रैली निकाली गई.

नवान्न पहुंचने पर सीएम ममता बनर्जी ने केंद्र सरकार पर जमकर हमला बोला. उन्होंने कहा कि नोटबंदी, पेट्रोल-डीजल और कोयले की बढ़ती कीमतों के कारण देश बैकफुट पर जा रहा है, इसके लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमित शाह जिम्मेदार हैं. वे नेताजी, सरदार वल्लभभाई पटेल के नाम पर बने स्टेडियम का नाम बदल रहे हैं, बहुत खेद है, वे किसी दिन देश का नाम भी बदल सकते हैं.

इस दौरान तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) अध्यक्ष और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि वे (बीजेपी) हर दिन रसोई गैस और डीजल की कीमतें बढ़ा रहे हैं, यह चिंता का विषय है, केंद्र सरकार केवल कुछ दिनों के लिए कीमतों को कम करेगी, जब चुनाव होने वाले होंगे.

आपको बता दें कि देश में पेट्रोल और डीजल की कीमत लगातार बढ़ती जा रही है. कई शहरों में पेट्रोल 100 रुपये के पार हो गया है. आज कोलकाता में पेट्रोल 91.12 रुपये और डीजल 84.19 रुपये लीटर है. पेट्रोल-डीजल की ऊंची कीमत से हर तरफ से यह आवाज उठ रही है कि सरकार इस पर लगने वाले भारी टैक्सेज में कटौती करे.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button