Other DistrictsPolitical

भारती घोष ने बीरभूम में एक रोड शो के बाद जनसभा को किया संबोधित

डेस्क: विधानसभा चुनाव को ध्यान में रखते हुए पश्चिम बंगाल में राजनीतिक गतिविधि बढ़ गयी है. राजनीतिक दलों की सभा, रैली व रोड शो में काफी इजाफा हुआ है. भारतीय जनता पार्टी ने भी अपना पूरा दम फूंक दिया है. प्रचार अभियान को आगे बढ़ाते हुए बीरभूम जिले में पश्चिम बंगाल भाजपा की उपाध्यक्ष व पूर्व आइपीएस अधिकारी भारती घोष लगातार दो दिनों से रोड शो व जमसभा कर रही हैं.

रविवार को भारती घोष ने बीरभूम में एक रोड शो के बाद जनसभा को संबोधित किया. भारती ने जुलूस से एक-एक करके तृणमूल कांग्रेस पर कई राजनीतिक वाण छोड़े. वहां उन्होंने तृणमूल कांग्रेस जिला अध्यक्ष व बाहूबली नेता अनुब्रत मंडल को आड़े हाथों लिया. उन्होंने अनुव्रत को ‘अपराधी’ बताया.

बता दें कि हाल ही में बीरभूम जिले के तृणमूल अध्यक्ष अनुब्रत ने कहा था, ‘2021 के चुनाव मतदान को लेकर खेल होगा. यह एक भयानक खेल होगा.’ अनुब्रत के इस ‘भयानक खेल’ वाले बयान की भारती घोष ने कड़ी आलोचना की. उन्होंने कहा कि उनके इस बयान के कारण उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जानी चाहिए. उन्होंने कहा कि जिस तरह की भयंकर भाषा में वह बात करते हैं, उससे लगता है कि वह कोई अपराधी हैं. उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई होनी चाहिए.’ इसके साथ ही उन्होंने अनुब्रत को चुनौती दी, ‘क्षमता है तो पुलिस को साथ न लेकर रास्ते पर उतरे.’

पुलिस की भूमिका को लेकर भी पूर्व आइपीएस अधिकारी ने चेतावनी दी. उन्होंने कहा, ‘भाजपा 2021 में राज्य में सरकार बनाएगी. इसीलिए ऐसा कोई काम न करें कि भविष्य में आपको एक थाना से दूसरा थाना और थाना-थाना घूमते हुए ही वक्त काटना पड़े.’

इससे पहले भारती घोष शनिवार को बीरभूम के पाड़ुई में एक रोड शो किया. रोड शो के दौरान सड़कों पर उतरते हुए सैकड़ों उत्साही भाजपा समर्थकों को पार्टी के झंडे फहराते देखा गया. भगवा और हरे रंग के गुब्बारे, भाजपा के झंडे और पार्टी के बैनर रोडशो के पूरे मार्ग को पंक्तिबद्ध करते थे.

भाजपा समर्थकों और कार्यकर्ताओं ने पूरे रोड शो में ‘जय श्री राम’, ‘भारत माता की जय’, ‘वंदे मातरम’ और ‘भाजपा जिंदाबाद’ के नारे लगाये.

पश्चिम बंगाल में 2021 के मध्य में विधानसभा चुनाव के लिए जाना है. अभी तारीखों की घोषणा नहीं की गई है. भाजपा ने 2019 के लोकसभा चुनावों में तृणमूल कांग्रेस को चौंका दिया था, क्योंकि उसने राज्य में अपने सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन के साथ 18 संसदीय क्षेत्रों को हराया था. ऐतिहासिक लोकसभा चुनावों के बाद, पार्टी आगामी विधानसभा चुनावों को महत्वपूर्ण मानती है और राज्य को जीतकर विपक्ष को एक मजबूत संदेश देना चाहती है.

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button