Political

फिर आ रहे हैं शाह बंगाल के दौरे पर, जानिए इस बार क्या-क्या करेंगे

डेस्क: अब पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव के लिए ज्यादा दिन नहीं बचे. ऐसे में नियमित अंतराल पर अमित शाह बंगाल में आकर कार्यकर्ताओं में जोश का संचार किए जा रहे हैं.

शाह की नियमित बंगाल यात्रा को देखते हुए यह साफ-साफ समझा जा सकता है कि इस बार की बंगाल के चुनाव को वह कितना महत्व दे रहे हैं.

बात करें बंगाल दौरे की तो 18 और 19 फरवरी को वह फिर बंगाल आ रहे हैं. वह 18 और 19 फरवरी को बंगाल में ही रहेंगे तथा रोड शो में हिस्सा लेंगे.

शरणार्थी परिवार के यहां लंच भी करेंगे

शाह जब-जब बंगाल आते हैं, वह कभी किसानों के घर भोजन करते हैं, तो कभी पिछड़े समुदाय के यहां भोजन करते हुए नजर आते हैं. सूत्रों की माने तो इस बार अपने दौरे के दौरान वह एक शरणार्थी परिवार के घर पर लंच करेंगे. ऐसा करना उनके लिए इसलिए खास है क्योंकि बांग्लादेश से आए हुए शरणार्थियों को नागरिकता देने की प्रक्रिया शुरू करने की बात शाह ने एक जनसभा के दौरान कही थी.

पिछली बार परिवर्तन यात्रा के चौथे चरण का किया था शुभारंभ

आपको बता दें कि पिछली बार 11 फरवरी को अमित शाह बंगाल के दौरे पर आए हुए थे. इस दौरान उन्होंने कुछ बिहार से परिवर्तन यात्रा के चौथे चरण का शुभारंभ भी किया था. इसी के साथ उन्होंने साइंस सिटी में सोशल मीडिया वॉलिंटियर्स के साथ बैठक भी की थी.

परिवर्तन यात्रा के पांचवें चरण को दिखाएंगे हरी झंडी

सूत्रों की मानें तो 18 फरवरी को अमित शाह सुबह के 10:00 बजे रासबिहारी एवेन्यू में स्थित भारत सेवाश्रम संघ जाएंगे. इसके बाद उनके गंगा सागर में स्थित कपिल मुनि आश्रम में जाने की भी संभावना है. साथ ही वह नामखाना के इंदिरा मैदान से परिवर्तन यात्रा के पांचवें चरण को भी हरी झंडी दिखाएंगे.

नेशनल लाइब्रेरी में शहीदों को देंगे श्रद्धांजलि

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह शरणार्थी परिवार के घर पर लंच करने के बाद नामखाना के श्मशान काली मंदिर से रोड शो की शुरुआत करेंगे. 19 फरवरी के दिन गृह मंत्री अमित शाह कोलकाता के नेशनल लाइब्रेरी में बंगाल के शहीदों को श्रद्धांजलि भी देंगे.

गौरतलब है कि इस बार के बंगाल में होने वाले विधानसभा चुनाव में किसी प्रकार की कमी ना रह जाए, इसे सुनिश्चित करने के लिए शाह नियमित रूप से बंगाल के दौरे पर आ रहे हैं.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button