Uncategorized

कोरोना के भय से कोलकाता में बढ़ी साइकिल की बिक्री

साइकिल की बिक्री एक जून के बाद से अचानक खूब बिक रही है साइकलें युवकों से लेकर अधेड़ तक खरीद रहे हैं

कोलकाता –  महानगर में कोरोना संक्रमण चरम की ओर बढ़ता जा रहा है। एेसे में कहीं आने जाने में संक्रमित होने का खतरा बढ़ गया है। इसीलिए अब लोग संक्रमण से बचने के लिए शारीरिक दूरी का अनुपालन करने और सार्वजनिक परिवहन के विकल्प के तौर पर लोग साइकिल को प्रमुखता दे रहे हैं और जिससे साइकिल बिक्री काफी बढ़ गई है। बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने पुलिस से आह्वान किया है कि वह शहर की सड़कों पर साइकिलों के लिए अधिक स्थान सुनिश्चित करें। इस बीच साइकिल चालकों के संगठन ने कहा कि उनकी मांग प्रमुख मार्गों पर विशेष साइकिल लेन बनाने की है जो अभी तक पूरी नहीं की गई है।

कोलकाता साइकिल चलाने वालों के संगठन के सदस्य ने बताया कि विक्रेताओं ने बताया कि गत दो हफ्तों में साइकिल की बिक्री तीन गुनी बढ़ी है क्योंकि परिवहन साधनों की कमी की वजह से लोग काम पर जाने में परेशानी का सामना कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि कई लोग 8,000 से 15,000 रुपये कीमत की आधुनिक खूबियों वाली साइकिलें खरीद रहे हैं। प्रमुख बाइक ब्रांड के अधिकारियों का कहना है कि सभी डीलर बिक्री दोगुनी होने की जानकारी दे रहे हैं…और इस चलन में तेजी आ रही है। मध्य कोलकाता के बेंटिंक स्ट्रीट और वाटरलू स्ट्रीट के साइकिल विक्रेताओं ने भी पुष्टि की कि साइकिल की बिक्री में तेजी आई है क्योंकि अब काम पर साइकिल से जाना फैशन हो गया है और रोजाना खरीदने के लिए पूछताछ करने वालों की संख्या बढ़ रही है।  कोलकाता  के एक साइकिल डीलर ने कहा कि कोविड-19 संकट से पहले 6,000 से 20,000 रुपये मूल्य की सात से दस साइकिलें बिकती थी, लेकिन एक जून से दुकान खुलने के बाद हम रोजना दोगुनी संख्या में साइकिलें बेच रहे हैं और खरीदारों में युवा और अधेड़ दोनों शामिल हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button